How Law of Attraction Works? जो चाहो वो पा लो Techniques

How the Law of Attraction Works ? जो चाहो वो पा लो Techniques

Law of attraction works. how to make manifestation work , Law of attraction techniques in hindi 

 
क्या संभव है और क्या असंभव ये देखना आपका काम नहीं, प्रकृति का काम है| आपका काम है मनचाही चीज के लिए मेहनत करना| इस धरती पर जो अब तक नहीं हुआ वो कल हो सकता है|
 
Does law of attraction works ?
 
law of attraction works techniques
पुस्तक खरीदें

कोई काम किये बिना भी आप वो बना सकते हैं जो आप चाहते हैं| तो अगर जीवन को आपके हिसाब से चलना चाहिए तो सबसे पहले आप कैसे सोचतें हैं? ये ध्यान वाली बात है| और आईडिया प्रोसेस में कितनी निरंतर लगन उर्जा है?

 
इस बात से तय होगा की, क्या आपका विचार, एक सच बन के, दिखेगा या सिर्फ एक विचार रह जायेगा|
 

  How Does Law of Attraction Works

Law of attraction works जो सोचोगे वही होगा, ध्यान से पढ़ें
Advertisement
 
law of attraction works techniques 
अगर आप अपने मन को, एसोसिएशन के एक निश्चित स्तर तक मैनेज करते हैं| तो ये सिस्टम को व्यवस्थित करता, आपका शरीर, आपकी भावना, आपकी उर्जा सब कुछ उसी दिशा में व्यवस्थित हो जाती है|
 
How to make meniffestation work ?
 
 जब आपके चारो आयाम-आपका भौतिक शरीर, आपका मन, आपकी भावना और मौलिक जीवन उर्जायें एक दिशा में व्यवस्थित हो जाती हैं| जब आप ऐसे हो जातें हैं, तो आप जो भी चाहतें हैं तो वाकई छोटी ऊँगली उठाये बिना होता है|
 
आपके काम करने से उसमे, मदद मिलेगी लेकिन कोई काम किये बिना भी, आप वो बना सकते हैं जो आप चाहते हैं|
 
अगर आप इन चार आयामों को एक दिशा में रखते हैं और कुछ समय तक उन्हें उसी दिशा में स्थिर रखते हैं|
 
Does law of attraction techniques really work?
 

आखिर मन है क्या चीज ?

चलिए हम आपको मन के बारे में बताते हैं| ये कुछ भी कर सकने में सक्षम है|  ये मन बड़ा ही चमत्कारी लगता है | दो अक्षरों का मिश्रण  ये मन होता भी तो तरीके का है  हैं| एक को बोलते है चेतन मन और दूसरा है अवचेतन मन | 
 
हर धर्म के साथ साथ विज्ञान भी इस बात की पुष्टि करता है की मन को साधकर के कुछ भी हासिल किया जा सकता हैं | वो चाहे संसार की कोई भी भौतिक चीज हो, कैसी भी मानसिक स्थिति या शारीरिक सुख हो |
 
ये मन की शक्ति ही थी जिसने किसी को भगवान, किसी किसी को संत किसी को देवता तो किसी को आइंस्टीन बना दिया| ये पैगम्बर ये तीर्थंकर ये सारे आविष्कार मन की शक्ति के ही प्रमाण है | 
 
मन के सदुपयोग से कोई भी साधारण से असाधारण बनने की क्षमता रखता है | Law of attraction works
 
महात्मा गाँधी भी एक साधारण बच्चे की तरह पैदा हुए थे लेकिन मन को साध लिया महान पुरुष बन गए | ये कौन बहुत अमीर थे ?
 
अमिताभ बच्चन सर को देख लीजिये | कभी उनकी लम्बी टांग और मोटी आवाज के चलते उनको अकुशल घोषित कर दिया गया था| लेकिन मन की शक्ति के सटीक इस्तेमाल से उन्होंने अपनी कमजोरी को मजबूती में तब्दील कर दिया| अपनी नाकामयाबी को महान कामयाबी में बदल दिया |
 
ऐसे करोड़ों उदाहरण आज हम सबके पास हैं| पुराने ग्रंथों में, बिज़नेस की दुनिया में, आविष्कार जगत में|
 
मन की ये शक्ति सभी के पास हैं, बिलकुल बराबर | इस मन को साधकर आप खुद को और दुनिया को बदल सकते हैं | अपना भाग्य खुद लिख सकते हैं| 
 

मन दिखाई नहीं देता इसका इस्तेमाल होता है 

ये मन कुछ बिजली के सरीखा| जिसका प्रयोग तो आप करते हैं पर उसे देख नहीं पाते| बिलकुल उसी तरह ये मन ऐसी चीज है जिसका इस्तेमाल तो आप करते हैं पर उसे देख नहीं पाते| इसी अदृश्य मन के बलबूते आप दुनिया पर अपना नियंत्रण रख सकतें हैं |
 
हम सभी जानते हैं – हमारे पास दो मन होता है | एक बाह्य मन और दूजा आंतरिक मन | इसके कई नाम हैं | जागृत मन, अर्ध जागृत मन, ये ही चेतन मन और अवचेतन मन हैं |
 
ये चेतन और अवचेतन बर्फ की उस सिल्ली के समान हैं जो पानी में तैरती है| और उसका सिर्फ 10% हिस्सा ही ऊपर दिखाई देता है और 90 प्रतिशत भाग भीतर पानी में होता है | 
 
हमारा जागृत मन वहीँ 10% हिस्सा है, जो हमें दिखाई देता है जो हम महसूस करते हैं | और अर्धजागृत मन वो 90% प्रतिशत हिस्सा जो पानी के भीतर रहता है | हमें दिखाई नहीं देता | हम उसका अनुभव भी नहीं कर पाते |
 
जागृत मन काम करता है जब हम जागते हैं | ये तर्क भी करता, डरता भी है, सोचता भी हैं परन्तु इसकी शक्ति सीमित होती है | 
 

अवचेतन मन सपने को साकार करता है Law of attraction works 

यहाँ से प्राप्त करें डिस्काउंट के साथ

 वहीँ दूसरी ओर हमारा अवचेतन मन हमेशा काम करता हैं | चाहे आप सो लो ये उस वक़्त भी काम करता है | ये बहुत शक्तिशाली है | ये कभी रूकता नहीं है | ये सबसे खास बात इसकी ये तर्क नहीं करता, सोचता नहीं है , ये सृजन का मालिक है| 

 
जागृत मन सपने देखता है परन्तु पूरा उसे अवचेतन मन ही करता है| ज्यादातर लोग अपने  जीवन में सिर्फ 10% की शक्ति के इस्तेमाल से आगे बढ़ते हैं| जबकि 90% शक्ति को जान नहीं पाते और उसका बेहतरीन इस्तेमाल भी करने से वंचित रह जाते हैं |
 
साथियों सर्व शक्तिमान आपका अवचेतन मन आपको हर चीज प्राप्त करने में आपका सारथी है| इसकी शक्ति की पहचान करिए | इसका अनुभव करिए | 
 
इस ब्रह्माण्ड में सारी शक्तियाँ मौजूद हैं|  और मजे की बात ये है, उसी शक्तिशाली ब्रह्माण्ड हम और आप भी साक्षी हैं |
 
 अभी आपके मन की समस्या है की हर पल,  ये अपनी दिशा बदल रहा है, ये ऐसा है- जैसे आप कहीं जाना चाहते हैं और आप हर दो कदमों पर अपनी दिशा बदलते रहतें हैं तो आपका मंजिल तक पहुंचना बहुत मुश्किल है जब तक की ये संयोग से ना हो, तोअपने मन को व्यवस्थित करना और उससे पूरे सिस्टम को, और अपने इन चार बुनियादी आयामों को एक दिशा में व्यवस्थित करना, अगर आप ऐसा करते हैं तो आप खुद कल्पवृक्ष हैं|
 

How Does law of attraction really works in hindi

 
 जो भी आप चाहतें हैं, वो होगा| जब हम इस तरह समर्थ हो जातें हैं तो ये बहुत महत्वपूर्ण है की हमारी शारीरिक क्रिया, भावनात्मक क्रिया, मानसिक क्रिया और उर्जा क्रियायें, नियंत्रित और ठीक दिशा में हो|
 
अगर ऐसा नहीं है तो हम विनाशकारी, आत्म विकासकारी, यही हमारी समस्या है| जिस तकनीक को, हमारे जीवन को सुन्दर और आसान बनाना चाहिए, वो सभी समस्याओं की जड़ बन गई है|
 
Law of attraction techniques really work!
 
तो मन को व्यवस्थित करने का बुनियादी मतलब है, चीजों को व्यवस्था से, करने के बजाय, जागरूक होकर करना|
 
आपने ऐसे लोगों के बारे में सुना होगा, जो कुछ मांगते हैं और सभी उम्मीदों से परे, वो उनके लिए सच हो जाता है| आमतौर पर ऐसा उनके साथ होता है जो श्रद्धा रखते हैं|
 
मान लीजिये आप घर बनाना चाहते हैं| अगर आप सोचने लगेंगे की अरे मैं घर बनाना चाहता हूँ, घर बनाने के लिए पचास लाख रुपये चाहिए, मेरी जेब में पचास रुपये हैं, नहीं होगा!  नहीं होगा!  संभव नहीं है| 
 
जैसे ही आप कहते हैं संभव नहीं है, आप ये भी कह रहें हैं, मैं ये नहीं चाहता तो एक स्तर पर आप इच्छा पैदा कर रहें हैं की आप कुछ चाहते हैं, दूसरे स्तर पर आप कह रहें हैं, मैं ये नहीं चाहता तो इस संघर्ष में, ये शायद ना हो पाये|
 

जो चाहो वो पा लो आकर्षण के नियम पर चलकर 

 
आप चाहतें हैं की जीवन, आपके हिसाब से चले, क्यूंकि अभी, आपकी ख़ुशी और आपकी खुशहाली की बुनियाद ये है| Apka avchetan mann 
 
अगर आप दुखी हैं तो सिर्फ और सिर्फ इसलिए, आप दुखी हैं की जीवन वैसे नहीं चल रहा जैसे आप चाहते हैं| बस यही बात है तो अगर जीवन आपके हिसाब से नहीं चलता तो आप दुखी होते हैं|
 
यदि जीवन आपके हिसाब से चलता है तो आप खुश होते हैं, ये इतना सरल है तो 
 

अगर जीवन को आपके अनुसार चलना चाहिए तो सबसे पहले 

Law of attraction works
 
आप कैसे सोचते हैं आपकी सोच में कितना फोकस है?
 
आपके विचार में कितनी स्थिरता है और विचार प्रक्रिया में कितनी उर्जा है?
 
इससे तय होगा की, क्या आपका विचार एक सच बनेगा या सिर्फ एक विचार रह जायेगा ?
 
ये इससे भी तय होगा की आप उल्टे विचार बनाकर, उस विचार के लिए रुकावट नहीं पैदा करते|
 
क्या ये हो सकता है या नहीं ? ये मानवता को नष्ट कर रहा है| क्या संभव है और क्या असंभव ये देखना आपका काम नहीं, प्रकृति का काम है| आपका काम है मनचाही चीज के लिए मेहनत करना|
 

अभी आप यहाँ लेख पढ़ रहे हैं , अगर मैं आपसे दो सरल प्रश्न पूछूँ-

 
मैं चाहता हूँ आप बस पढ़ें और उत्तर दें 
 
आप जहाँ बैठे हैं, क्या वहां से उठ सकते हैं ?
 
आप कहेंगे – नहीं 
 
क्या आप वहां से उठकर चल सकते हैं ?
 
आप कहेंगे – हाँ 
 
इसका आधार क्या है की आप उठने के लिए नहीं आप चलने के लिए हाँ कहते हैं|
 
आधार है – जीवन का अनुभव, कई बार आप उठकर चलें हैं कभी उड़ान नहीं भरी या दूसरे शब्दों में| आप जीवन के पिछले अनुभव को आधार बनाकर, आप ये तय कर रहें हैं की कुछ संभव है या नहीं|
 
या दूसरे शब्दों में, आपने तय किया है की अब तक जो नहीं हुआ वो भविष्य में आपके जीवन में नहीं हो सकता है|
 
ये मानवता और मानवीय भावना का अपमान है, इस धरती पर जो अब तक नहीं हुआ वो कल हो सकता है|
 
मानव इसे कल एक रियलिटी बना सकतें हैं तो क्या संभव है और क्या असंभव ये देखना आपका काम नहीं, ये प्रकृति का काम है, प्रकृति तय करेगी|
 
आप बस देखिये की वाकई आप क्या चाहते हैं ? उसके लिए मेहनत कीजिये और अगर आपका विचार, शक्तिशाली तरीके से तैयार होता है बिना किसी उल्टे विचारों के|
 
कोई ऐसे उल्टे विचार न हो जिनसे विचार प्रक्रिया की तीव्रता  कम हो जाए|
 

सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात Law of attraction works

 
सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात – आपको स्पष्ट पता होना चाहिए की आप वाकई, क्या चाहते हैं ? अगर आप नहीं जानते की आप क्या चाहतें हैं तो उसे बनाने का सवाल ही नहीं उठता|
 
अगर आप ये देखें की आप वाकई , क्या चाहतें हैं ? तो हर इंसान यही चाहता है, वो ख़ुशी से जीना चाहता है| वो शांति से जीना चाहता है| वो चाहता है की उसके रिश्ते प्यार भरें हो और दूसरे शब्दों में ये कहें तो कोई भी इंसान ये चाहता है की वो अपने भीतर सुखी हो| और उसके चारों ओर सुख हो| ये सुख, अगर हमारे शरीर में होता है तो हम इसे सेहत या सुख कहतें हैं| 
 
अगर ये हमारे मन में होता है तो हम इसे शांति या ख़ुशी कहतें हैं| अगर ये हमारी, भावना में होता है तो हम प्यार और करुणा कहते हैं| अगर ये हमारी उर्जा में होता है तो हम इसे आनंद और परमानन्द कहते हैं|
 
यही एक इंसान की तलाश है चाहे वो काम करने अपने ऑफिस जा रहा है| वो पैसा कमाना चाहता है| करिअर बनाना चाहता है, परिवार बनाये| वो फिर भी उस चीज की तलाश में है, भीतर सुख, चारो ओर सुख|
 
अगर यही हम चाहते हैं तो मुझे लगता है, इसे सीधे संबोधित करने और इसे बनाने के लिए खुद को प्रतिबद्ध करने का यही समय है| law of attraction works
 

How to make meniffestation work ?

 
अगर आप खुद को,  कुछ अच्छा बनाने के लिए प्रतिबद्ध करते हैं तो आपका मन व्यवस्थित हो जाता है| 
 
जब आपका मन व्यवस्थित हो जाता है तो आपकी भावना व्यवस्थित हो जाएँगी| भावना का सम्बन्ध, विचार से है|
 
और जब आपका विचार और आपकी भावनाएं, संगठित हो जातीं हैं| तो आपकी उर्जाएं, उसी दिशा में व्यवस्थित हो जाएँगी| 
 
जब आपके विचार, भावना और उर्जा व्यवस्थित हो जायेंगे, तो आपका शरीर व्यवस्थित हो जायेगा|
 
अंत में जब ये चारों एक दिशा में व्यवस्थित हो जातें हैं तो आपमें मनचाही चीजें बनाने और प्रकट करने की, जबरदस्त क्षमता होगी|
 
आप कई मायनों में ईश्वर होंगे|
 
जो सृष्टि का स्रोत है, वो आपके जीवन के हर पल में, आपके अन्दर काम कर रहा है, बात सिर्फ ये है|
 
क्या आपने, उस आयाम तक पहुँच बनाई है? या नहीं! अपने जीवन के चार मूल तत्वों को व्यवस्थित करके, आपको वो पहुँच मिलेगी| ऐसा करने के लिए साधन और तकनीकें हैं|
 
Law of attraction works
 
योग का पूरा विज्ञान, पूरी तकनीक, जिसे हम योग कहते हैं| खुद को, सृष्टि के एक टुकड़े से सृष्टा बनाना|
 
ये हमारी इच्छा और  मेरी दुआ है की दुनिया में हर एक इंसान को, अपने भीतर सृजन के स्रोत तक पहुँच हो ताकि वो रचनाकार की तरह यहाँ काम कर सके न की सिर्फ एक रचना के रूप में|
 

निष्कर्ष 

 
दोस्तों यह How Law of Attraction Works? जो चाहो वो पा लो Techniques आपको अगर अच्छा लगा तो आप इसे अधिक से अधिक शेयर  करें और सब्सक्राइब भी करें ताकि इस तरह के आने वालेArticle की जानकारी आपको मेल के माध्यम से तुरंत पहुँच सके|
 
ये How Law of Attraction Works?जो चाहो वो पा लो Techniques, हिंदी में  Article और लोगों तक पहुँच सके, जानकारी मिल सके और अपनी राय कमेंट में जरूर बताएं, और अगली पोस्ट किस टॉपिक पर चाहते हैं ये भी आप कमेंट  कर सकते हैं|
 
यदि आपके पास Hindi में कोई Article है, Success StoryMotivational ThoughtLife tips  या और कोई जानकारी है और वह आप हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो कृपया अपना कंटेंट अपनी फोटो के साथ हमें मेल करें|
 
हमारी E-Mail id  है –  babapvm11@gmail.com
 
अगर आपका कंटेंट हमारी टीम को पसंद आता है तो उसे हम आपकी फोटो और नाम के साथ अपनी वेबसाइट www.hindiaup dot com  पर पब्लिश करेंगे| 
 
धन्यवाद, आशा है की आपका दिन शानदार गुजरेगा!
 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *